Albert Einstein Quotes in Hindi – अल्बर्ट आइंस्टीन के अनमोल विचार

1. Quote:

“Imagination is more important than knowledge.”

अनुवाद: “कल्पना ज्ञान से अधिक महत्वपूर्ण है।”

अल्बर्ट आइंस्टीन का मानना ​​था कि संभावनाओं की कल्पना करने और कल्पना करने की क्षमता केवल ज्ञान रखने से अधिक मूल्यवान है। कल्पना हमें पहले से मौजूद चीज़ों से परे सोचने और नए विचारों का पता लगाने की अनुमति देती है, जिससे नवाचार और प्रगति होती है।

2. Quote:

“In the middle of difficulty lies opportunity.”

अनुवाद: “कठिनाई के बीच में अवसर छिपा है।”

अल्बर्ट आइंस्टीन का यह उद्धरण हमें याद दिलाता है कि चुनौतियाँ और बाधाएँ अक्सर विकास और सफलता के लिए छिपे हुए अवसर पेश करती हैं। कठिनाइयों से हतोत्साहित होने के बजाय, हमें उन्हें सीखने, सुधार करने और अपने लक्ष्यों को प्राप्त करने के लिए नए रास्ते खोजने के अवसरों के रूप में देखना चाहिए।

3. Quote:

“Logic will get you from A to B. Imagination will take you everywhere.”

अनुवाद: “तर्क आपको ए से बी तक ले जाएगा। कल्पना आपको हर जगह ले जाएगी।”

आइंस्टीन ने इस उद्धरण में कल्पना की शक्ति पर जोर देते हुए कहा है कि जबकि तर्क समस्या-समाधान और विशिष्ट गंतव्यों तक पहुंचने के लिए महत्वपूर्ण है, यह कल्पना ही है जो हमें वर्तमान में हम जो जानते हैं उससे परे नए क्षेत्रों और संभावनाओं का पता लगाने की अनुमति देती है। कल्पना नवप्रवर्तन को खोलने और नई ऊंचाइयों तक पहुंचने की कुंजी है।

4. Quote:

“Try not to become a man of success, but rather try to become a man of value.”

अनुवाद: “सफल व्यक्ति बनने का प्रयास न करें, बल्कि मूल्यवान व्यक्ति बनने का प्रयास करें।”

अल्बर्ट आइंस्टीन का यह उद्धरण हमें केवल सफलता का पीछा करने के बजाय व्यक्तिगत विकास और योगदान पर ध्यान केंद्रित करने के लिए प्रोत्साहित करता है। बाहरी मान्यता या भौतिक उपलब्धियों की तलाश करने के बजाय, हमारा ध्यान ऐसे व्यक्ति बनने पर होना चाहिए जो मूल्य लाते हैं और हमारे आसपास की दुनिया पर सकारात्मक प्रभाव डालते हैं।

5. Quote:

“The true sign of intelligence is not knowledge but imagination.”

अनुवाद: “बुद्धि का असली संकेत ज्ञान नहीं बल्कि कल्पना है।”

आइंस्टीन का मानना ​​था कि बुद्धिमत्ता को केवल ज्ञान के संचय से नहीं मापा जाना चाहिए, बल्कि रचनात्मक रूप से सोचने और नई संभावनाओं की कल्पना करने की क्षमता से मापा जाना चाहिए। यह मौजूदा जानकारी से परे सोचने और नवीन विचारों के साथ आने की क्षमता है जो वास्तव में बुद्धिमत्ता को प्रदर्शित करती है।

6. Quote:

“Life is like riding a bicycle. To keep your balance, you must keep moving.”

अनुवाद: “जीवन साइकिल चलाने जैसा है। अपना संतुलन बनाए रखने के लिए, आपको चलते रहना चाहिए।”

अल्बर्ट आइंस्टीन का यह उद्धरण रूपक रूप से जीवन की तुलना साइकिल चलाने से करता है। जिस तरह आपको बाइक चलाते समय संतुलन बनाए रखने के लिए आगे बढ़ते रहने की जरूरत है, उसी तरह जीवन में भी आपको संतुलन खोजने और चुनौतियों से निपटने के लिए प्रगति करते रहना चाहिए, कार्रवाई करनी चाहिए और बदलाव को अपनाना चाहिए।

7. Quote:

“Creativity is contagious. Pass it on.”

अनुवाद: “रचनात्मकता संक्रामक है। इसे आगे बढ़ाएँ।”

आइंस्टीन इस विचार को प्रोत्साहित करते हैं कि रचनात्मकता का व्यापक प्रभाव होता है और यह दूसरों को प्रेरित कर सकती है। जब हम अपने रचनात्मक विचारों, अंतर्दृष्टि और समाधानों को दूसरों के साथ साझा करते हैं, तो हम उनकी कल्पना को जगाते हैं और उन्हें लीक से हटकर सोचने के लिए प्रेरित करते हैं। रचनात्मकता को आगे बढ़ाकर, हम एक अधिक नवोन्मेषी और कल्पनाशील समाज में योगदान करते हैं।

8. Quote:

“Education is what remains after one has forgotten what one has learned in school.”

अनुवाद: “स्कूल में जो सीखा है उसे भूल जाने के बाद भी जो कुछ बचता है वह शिक्षा है।”

इस उद्धरण में, आइंस्टीन सुझाव देते हैं कि सच्ची शिक्षा केवल कक्षा में सीखने या तथ्यों और आंकड़ों को याद रखने तक ही सीमित नहीं है। इसके बजाय, यह वह ज्ञान और कौशल है जो विशिष्ट जानकारी भूल जाने के बाद भी किसी व्यक्ति के पास रहता है, और इसमें आलोचनात्मक सोच, समस्या-समाधान और आजीवन सीखना शामिल है।

9. Quote:

“Great spirits have always encountered violent opposition from mediocre minds.”

अनुवाद: “महान आत्माओं को हमेशा औसत दर्जे के दिमागों से हिंसक विरोध का सामना करना पड़ा है।”

आइंस्टीन इस वास्तविकता पर प्रकाश डालते हैं कि जो लोग यथास्थिति को चुनौती देते हैं और अलग ढंग से सोचने का साहस करते हैं, उन्हें अक्सर उन लोगों से प्रतिरोध का सामना करना पड़ता है जो सामान्यता से संतुष्ट हैं। दूरदर्शी और नवप्रवर्तकों को ऐतिहासिक रूप से उन लोगों के विरोध और आलोचना का सामना करना पड़ा है जो बदलाव से डरते हैं या पारंपरिक सीमाओं से परे सोचने की क्षमता की कमी रखते हैं।

10. Quote:

“The best way to predict the future is to invent it.”

अनुवाद: “भविष्य की भविष्यवाणी करने का सबसे अच्छा तरीका उसका आविष्कार करना है।”

आइंस्टीन का यह उद्धरण हमारे भविष्य को आकार देने के लिए निष्क्रिय रूप से इंतजार करने के बजाय सक्रिय कार्रवाई करने के महत्व पर जोर देता है। सक्रिय रहकर, जोखिम उठाकर और नई संभावनाएं पैदा करके, हमारे पास अपने जीवन और अपने आस-पास की दुनिया की दिशा को प्रभावित करने और आकार देने की शक्ति है।

11. Quote:

“In the midst of every crisis, lies great opportunity.”

अनुवाद: “हर संकट के बीच, महान अवसर छिपा होता है।”

आइंस्टीन हमें याद दिलाते हैं कि संकट और प्रतिकूलता के समय में भी, छिपे हुए अवसर खोजे जाने की प्रतीक्षा में हैं। चुनौतीपूर्ण समय के दौरान व्यक्तियों और समाजों को नवाचार करने, अनुकूलन करने और नए समाधान खोजने का मौका मिलता है, जिससे व्यक्तिगत और सामूहिक विकास होता है।

12. Quote:

“You never fail until you stop trying.”

अनुवाद: “आप तब तक असफल नहीं होते जब तक आप प्रयास करना बंद नहीं कर देते।”

अल्बर्ट आइंस्टीन का यह उद्धरण दृढ़ता और इस मान्यता को प्रोत्साहित करता है कि विफलता अंत नहीं बल्कि एक अस्थायी झटका है। जब तक हम प्रयास करते रहेंगे, अपनी गलतियों से सीखते रहेंगे और प्रयास करते रहेंगे, हमारे पास असफलता को सफलता में बदलने का अवसर रहेगा।

13. Quote:

“The only way to do great work is to love what you do.”

अनुवाद: “महान काम करने का एकमात्र तरीका यह है कि आप जो करते हैं उससे प्यार करें।”

आइंस्टीन सुझाव देते हैं कि हमारे काम के प्रति जुनून और वास्तविक आनंद असाधारण काम करने के लिए आवश्यक तत्व हैं। जब हम जो करते हैं उससे प्यार करते हैं, तो हम अपना समय, ऊर्जा और कौशल पूरे दिल से निवेश करने की अधिक संभावना रखते हैं, जिससे अधिक संतुष्टि मिलती है और उल्लेखनीय उपलब्धियों की संभावना होती है।

14. Quote:

“A person who never made a mistake never tried anything new.”

अनुवाद: “जिस व्यक्ति ने कभी गलती नहीं की उसने कभी कुछ नया करने की कोशिश नहीं की।”

आइंस्टीन नई खोजों और विकास की सीढ़ी के रूप में गलतियों को स्वीकार करने के महत्व पर प्रकाश डालते हैं। जो लोग कभी ग़लतियाँ नहीं करते, वे संभवतः सुरक्षित रहते हैं और जोखिम लेने या नए विचारों की खोज करने से बचते हैं। कुछ नया करने की कोशिश में स्वाभाविक रूप से गलतियाँ करना शामिल है, और उनसे सीखना व्यक्तिगत और बौद्धिक विकास का एक अभिन्न अंग है।

15. Quote:

“The measure of intelligence is the ability to change.”

अनुवाद: “बुद्धिमत्ता का माप बदलने की क्षमता है।”

आइंस्टीन का सुझाव है कि सच्ची बुद्धिमत्ता किसी के ज्ञान या उपलब्धियों से निर्धारित नहीं होती है, बल्कि अनुकूलन करने, सीखने और विकसित होने की उनकी क्षमता से निर्धारित होती है। नई जानकारी और अनुभवों के जवाब में किसी के विश्वास, दृष्टिकोण और कार्यों को बदलने की क्षमता बुद्धिमत्ता की पहचान है।

16. Quote:

“It’s not that I’m so smart, it’s just that I stay with problems longer.”

अनुवाद: “ऐसा नहीं है कि मैं इतना स्मार्ट हूं, बात सिर्फ इतनी है कि मैं समस्याओं के साथ लंबे समय तक रहता हूं।”

आइंस्टीन विनम्रतापूर्वक अपनी सफलता का श्रेय अपनी दृढ़ता और कठिन समस्याओं पर काम करते रहने की इच्छा को देते हैं। यह उद्धरण हमें याद दिलाता है कि बुद्धिमत्ता और सफलता के लिए अक्सर समर्पण, दृढ़ता और चुनौतियों के सामने भी प्रयास करते रहने की इच्छा की आवश्यकता होती है।

17. Quote:

“The important thing is to not stop questioning. Curiosity has its own reason for existing.”

अनुवाद: “महत्वपूर्ण बात यह है कि सवाल करना बंद न करें। जिज्ञासा के अस्तित्व का अपना कारण है।”

आइंस्टीन जिज्ञासा के महत्व और सवाल करना कभी बंद न करने की आवश्यकता पर जोर देते हैं। जिज्ञासा नई अंतर्दृष्टि खोजने, सीखने और खोजने की हमारी इच्छा को बढ़ावा देती है। प्रश्न पूछने और उत्तर खोजने के माध्यम से हम अपने ज्ञान का विस्तार करते हैं और मानवीय समझ की सीमाओं को आगे बढ़ाते हैं।

18. Quote:

“I have no special talent. I am only passionately curious.”

अनुवाद: “मुझमें कोई विशेष प्रतिभा नहीं है। मैं केवल पूरी तरह से उत्सुक हूं।”

आइंस्टीन विनम्रतापूर्वक स्वीकार करते हैं कि उनके पास कोई असाधारण प्रतिभा या योग्यता नहीं है। इसके बजाय, सीखने के प्रति उनकी अतृप्त जिज्ञासा और जुनून उनकी उपलब्धियों के पीछे प्रेरक शक्ति रही है। यह उद्धरण हमें जिज्ञासा को अपनाने और व्यक्तिगत और बौद्धिक विकास को बढ़ावा देने की इसकी शक्ति को पहचानने के लिए प्रोत्साहित करता है।

19. Quote:

“Learn from yesterday, live for today, hope for tomorrow.”

अनुवाद: “कल से सीखो, आज के लिए जियो, कल के लिए आशा करो।”

आइंस्टीन पिछले अनुभवों से सीखने, वर्तमान क्षण में जीने और भविष्य के लिए आशा बनाए रखने का महत्व बताते हैं। यह उद्धरण हमारे अतीत पर चिंतन करने, वर्तमान का अधिकतम लाभ उठाने और हमारे सामने आने वाली चुनौतियों की परवाह किए बिना प्रत्येक दिन को आशावादी दृष्टिकोण से देखने के लिए एक अनुस्मारक के रूप में कार्य करता है।

20. Quote:

“The value of a man should be seen in what he gives and not in what he is able to receive.”

अनुवाद: “किसी व्यक्ति का मूल्य इसमें देखा जाना चाहिए कि वह क्या देता है, न कि इसमें कि वह क्या प्राप्त करने में सक्षम है।”

आइंस्टीन इस उद्धरण में उदारता और निस्वार्थता के महत्व पर जोर देते हैं। सच्चा मूल्य इस बात से नहीं मापा जाता कि हम क्या प्राप्त करते हैं या जमा करते हैं, बल्कि हमारी दूसरों को देने, योगदान देने और उनके जीवन में सकारात्मक बदलाव लाने की क्षमता से मापी जाती है। दयालुता और उदारता के कार्य वास्तव में किसी व्यक्ति के मूल्य को परिभाषित करते हैं।

21. Quote:

“Peace cannot be kept by force; it can only be achieved by understanding.”

अनुवाद: “बल द्वारा शांति नहीं रखी जा सकती; इसे केवल समझ से ही प्राप्त किया जा सकता है।”

आइंस्टीन शांति की नींव के रूप में सहानुभूति और आपसी समझ के महत्व की वकालत करते हैं। यह उद्धरण इस बात पर प्रकाश डालता है कि शांति बनाए रखने के लिए बल या हिंसा का उपयोग टिकाऊ या प्रभावी नहीं है। इसके बजाय, शांति प्राप्त करने के लिए खुले संवाद, सहानुभूति और विभिन्न दृष्टिकोणों को समझने और उनका सम्मान करने के वास्तविक प्रयास की आवश्यकता होती है।

22. Quote:

“We cannot solve our problems with the same thinking we used when we created them.”

अनुवाद: “हम अपनी समस्याओं को उसी सोच के साथ हल नहीं कर सकते जो हमने उन्हें बनाते समय अपनाई थी।”

जब समस्या-समाधान की बात आती है तो आइंस्टीन एक नए दृष्टिकोण की आवश्यकता पर जोर देते हैं। यह उद्धरण बताता है कि हमारी समस्याओं का समाधान उसी मानसिकता और दृष्टिकोण का उपयोग करके नहीं पाया जा सकता है जिसने सबसे पहले उन समस्याओं का कारण बना। यह हमें अपनी धारणाओं को चुनौती देने और नवीन और प्रभावी समाधान खोजने के लिए दायरे से बाहर सोचने के लिए प्रोत्साहित करता है।

23. Quote:

“Everybody is a genius. But if you judge a fish by its ability to climb a tree, it will live its whole life believing that it is stupid.”

अनुवाद: “हर कोई प्रतिभाशाली है। लेकिन अगर आप किसी मछली को उसकी पेड़ पर चढ़ने की क्षमता से आंकेंगे, तो वह अपना पूरा जीवन यह मानते हुए जिएगी कि वह मूर्ख है।’

आइंस्टीन बुद्धि के संकीर्ण और मानकीकृत मानदंड थोपने के खतरे पर प्रकाश डालते हैं। यह उद्धरण हमें याद दिलाता है कि हर किसी में अद्वितीय प्रतिभाएं और क्षमताएं होती हैं। किसी विशिष्ट कौशल या क्षमता के आधार पर व्यक्तियों का मूल्यांकन करके, हम उनकी क्षमता को सीमित कर देते हैं और उन क्षेत्रों में उनकी वास्तविक प्रतिभा को पहचानने में विफल हो जाते हैं जहां वे उत्कृष्ट हैं।

24. Quote:

“The difference between stupidity and genius is that genius has its limits.”

अनुवाद: “मूर्खता और प्रतिभा के बीच अंतर यह है कि प्रतिभा की अपनी सीमाएं होती हैं।”

आइंस्टीन मूर्खता और प्रतिभा के विपरीत गुणों पर विनोदपूर्वक विचार करते हैं। जबकि प्रतिभा की विशेषता असाधारण क्षमताएं और संभावनाएं होती हैं, प्रतिभा की भी अपनी सीमाएं होती हैं। यह उद्धरण विनम्रता को प्रोत्साहित करता है और हमें याद दिलाता है कि चाहे हम कितने भी प्रतिभाशाली या बुद्धिमान क्यों न हों, हमेशा ऐसे क्षेत्र होंगे जहां हमारी सीमाएं होंगी।

25. Quote:

“It is not enough to teach a man a specialty; one must also teach him how to support himself during a crisis.”

अनुवाद: “किसी व्यक्ति को कोई विशेषता सिखाना पर्याप्त नहीं है; किसी को उसे यह भी सिखाना चाहिए कि संकट के दौरान खुद का समर्थन कैसे करना है।

आइंस्टीन चुनौतीपूर्ण समय से निपटने के लिए व्यक्तियों को कौशल और ज्ञान से लैस करने के महत्व पर जोर देते हैं। हालांकि किसी विशेष क्षेत्र में विशेषज्ञता मूल्यवान है, इसे व्यापक कौशल द्वारा पूरक किया जाना चाहिए जो अनिश्चितता और संकट के समय आत्मनिर्भरता और लचीलेपन को सक्षम बनाता है।

26. Quote:

“Information is not knowledge. The only true wisdom is in knowing you know nothing.”

अनुवाद: “जानकारी ज्ञान नहीं है। एकमात्र सच्चा ज्ञान यह जानने में है कि आप कुछ नहीं जानते।

आइंस्टीन इस उद्धरण में सूचना और सच्चे ज्ञान के बीच अंतर करते हैं। जानकारी आसानी से प्राप्त की जा सकती है, लेकिन ज्ञान के लिए समझ और जानकारी को प्रासंगिक रूप से लागू करने की क्षमता की आवश्यकता होती है। आइंस्टीन के अनुसार, सच्चा ज्ञान एक विनम्र दृष्टिकोण को अपनाने में निहित है जो यह पहचानता है कि सीखने और खोजने के लिए हमेशा बहुत कुछ होता है।

Leave a Reply

Scroll to Top